• Skip to Content
  • Sitemap
  • Advance Search
विज्ञप्तियां
माह वर्ष
  • संसद के मानसून सत्र से पूर्व प्रधानमंत्री के वक्तव्य का मूल पाठ (18-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री ने न्यू इंडिया कॉन्क्लेव को संबोधित किया (17-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री के न्यू इंडिया कॉन्क्लेव में संबोधन का मूल पाठ (16-जुलाई,2018)
  • मिर्जापुर में विभिन्न विकास परियोजनाओं के उद्घाटन और आधारशिला रखने पर प्रधानमंत्री के सम्बोधन का मूल पाठ (16-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री ने मिर्जापुर में बाणसागर नहर परियोजना राष्ट्र को समर्पित की (15-जुलाई,2018)
  • बनारस में विभिन्न विकास परियोजनाओं के उद्घाटन और आधारशिला रखने पर प्रधानमंत्री के सम्बोधन का मूल पाठ (14-जुलाई,2018)
  • आज़मगढ़ में पूर्वांचल एक्सप्रेसवे की आधारशिला रखने पर प्रधानमंत्री के सम्बोधन का मूल पाठ (14-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री ने आजमगढ़ में पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का शिलान्यास किया (14-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री 14 और 15 जुलाई, 2018 को पूर्वी उत्तर प्रदेश का दौरा करेंगे (13-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री ने विश्‍व अंडर-20 चैंपियनशिप में 400 मीटर स्‍पर्धा में स्‍वर्ण पदक जीतने पर हिमा दास को बधाई दी  (13-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री के वीडियो ब्रिज के माध्यम से देशभर के स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों से संवाद का मूल पाठ (12-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री ने नई दिल्ली में एएसआई के नए मुख्यालय का उद्घाटन किया (12-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री ने वीडियो ब्रिज के माध्यम से देशभर के स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों से संवाद किया (12-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी कल देश भर के राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के लाभार्थियों से सीधे संवाद करेंगे (11-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री नई दिल्ली में एएसआई के नए मुख्यालय का उद्घाटन करेंगे (11-जुलाई,2018)
  • कोरिया गणराज्य के राष्ट्रपति की भारत यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री द्वारा प्रेस वक्तव्य (10-जुलाई,2018)
  • कोरिया गणराज्य के राष्ट्रपति की भारत यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री द्वारा प्रेस वक्तव्य (10-जुलाई,2018)
  • नोएडा, उत्तर प्रदेश में सैमसंग मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग इकाई के उद्घाटन के अवसर पर प्रधानमंत्री के भाषण का मूल पाठ (09-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्‍ट्रपति ने नोएडा में मोबाइल उत्‍पादन यूनिट का उद्घाटन किया (09-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री ने एफआईजी विश्‍व चैलेंज कप की वॉल्‍ट स्‍पर्धा में स्‍वर्ण पदक जीतने पर दीपा कर्माकर को बधाई दी (08-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मेघालय के पूर्व राज्यपाल श्री एम एम जैकोब के निधन पर दुख व्यक्त किया है। (08-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री ने शहरी बुनियादी ढांचे की परियोजनाओं का शिलान्यास किया ;  कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों द्वारा उठाए गए अनुभवों को साझा किया ;  जयपुर में सार्वजनिक बैठक को संबोधित किया (07-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री ने वीडियो काँफ्रेसिंग के माध्यम से सौराष्ट्र पटेल सांस्कृतिक समाज के अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित किया (06-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री 7 जुलाई, 2018 को राजस्थान जायेंगे (06-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री ने डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि दी (06-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री युवा आईएएस अधिकारियों से मिले (04-जुलाई,2018)
  • केन्या के पूर्व प्रधानमंत्री महामहिम श्री रैला ओडिंगा ने प्रधानमंत्री से भेंट की (03-जुलाई,2018)
  • प्रधानमंत्री ने अफगानिस्‍तान में हुए आतंकी हमले की निन्‍दा की    (02-जुलाई,2018)
 
प्रधानमंत्री कार्यालय

संसद के मानसून सत्र से पूर्व प्रधानमंत्री के वक्तव्य का मूल पाठ

वर्षा सत्र में देशहित के कई महत्‍वपूर्ण मसले उसका निर्णय होना जरूरी हैजिसका निर्णय होना जरूरी है। देश के कई महत्‍वपूर्ण मसलों पर चर्चा होना जरूरी है और जितनी व्‍यापक चर्चा होगी सभी वरिष्‍ठ अनुभवी लोगों का सदन को मार्गदर्शन मिलेगा, उतना देश को भी लाभ होगासरकार को भी अपनी निर्णय प्रक्रिया में अच्‍छे सुझावों से फायदा होगा। मैं आशा करता हूं कि सभी राजनीतिक दल सदन के समय का सर्वाधिक उपयोग देश के महत्‍वपूर्ण कामों को आगे बढ़ाने में करेंगे। हर किसी का पूर्ण सहयोग रहेगा और देशभर में भारत की संसद की गतिविधि की छवि राज्‍य विधानसभाओं के लिए भी प्रेरक बनेऐसा उत्‍तम उदाहरण सभी सांसद सदस्‍य और सभी राजनीतिक दल प्रस्‍तुत करेंगे, ऐसी मेरी पूरी आशा है । हर बार मैंने अपनी आशा प्रकट भी की हैप्रयास भी किया है। इस बार भी आशा प्रकट कर रहा हूं। इस बार भी प्रयास कर रहे हैं और हमारा प्रयास निरंतर रहेगा। कोई भी दलकोई भी सदस्‍य किसी भी विषय में चर्चा करना चाहता है, सरकार हर चर्चा के लिए तैयार है। यह मानसून सत्र हैदेश के कई भागों में वर्षा के कारण कुछ आपदाएं भी हैं और कुछ स्‍थान हैं जहां अपेक्षा से कम वर्षा है। मैं समझता हूं ऐसे विषयों की चर्चा ही बहुत उपयुक्‍त रहेगी। बहुत-बहुत धन्‍यवाद।

***

AKT/VJ/SK